बिहार पर्यटन में आपका स्वागत है!
अपना खाता बनाएं
बिहार पर्यटन
पासवर्ड भूल गया
बिहार पर्यटन
एक नया पासवर्ड सेट करें
बिहार पर्यटन
आपने अभी तक अपना खाता सक्रिय नहीं किया है.
नीचे दिए गए लिंक का उपयोग करके अपने खाते को सक्रिय करें।
बिहार पर्यटन
सक्सेस पेज।
बिहार पर्यटन
त्रुटि पृष्ठ।
बिहार पर्यटन
यूजर प्रोफाइल


बिहार पर्यटन
पासवर्ड बदलें
बाराबार गुफाएं

जहानाबाद जिले में ये गुफाएं स्थित है और चट्टानों को काटकर बनायीं गयी सबसे पुराणी गुफाएं हैं| इनमें से अधिकाँश गुफाओं का सम्बन्ध मौर्या काल (३२२-१८५ ईसा पूर्व ) से है और कुछ में अशोक के शिलालेखों को देखा जा सकता है| 

ये गुफाएं बराबर (चार गुफाएं ) और नागार्जुनी (तीन गुफाएं) की जुड़वाँ पहाड़ियों में स्थित है| बराबर में ज्यादातर गुफाएं दो कक्षों की बनी हैं जिन्हे पूरी तरह से ग्रेनाइट को तराशकर बनाया गया है जिनमे से एक उच्च - स्तरीय पोलिश युक्त आतंरिक सतह और गूंज का रोमांचक प्रभाव पैदा करता है| इन गुफाओं का उपयोग आजीविका सम्प्रदाय के सन्यासियों द्वारा किया गया था जिनकी स्थापना मक्खलि गोसाल द्वारा की गयी थी , वे बौद्ध धर्म के संस्थापक सिद्दार्थ गौतम और जैन धर्म के अंतिम एवं २४ वे तीर्थंकर महावीर के समकालीन थे| इसके अलावा इस स्थान पर चट्टानों से निर्मित कई बौद्ध और हिन्दू मूर्तियां भी पायी गयी हैं|

Booking.com

ध्यान दें : अन्य स्थलों के लिंक प्रदान करके, बिहार पर्यटन इन साइटों पर उपलब्ध जानकारी या उत्पादों की गारंटी, अनुमोदन या समर्थन नहीं करता है।

जहानाबाद।

साफ आकाश

18.85°C
लगता है जैसे 17.62°C
हवा 1.57 m/s
दबाव 1010 hPa
पसंदीदा में जोड़ें

संग्रह